Gonda Mahotsav


पद्मश्री मालिनी अवस्थी ने महोत्सव को बनाया यादगार

                    महोत्सव का चैथा और अन्तिम दिन लोक कलाओं से भरा रहा। महोत्सव की आखिरी शाम लोकगायिका मालिनी अवस्थी के नाम रही। मालिनी अवस्थी के स्टेज पर आते ही खचाखच भरा पण्डाल तालियों की गड़गड़ाहट से गूंज उठा। मालिनी अवस्थी ने अपनी प्रस्तुति सबसे पहले देवी …

पद्मश्री मालिनी अवस्थी ने महोत्सव को बनाया यादगार Read More »