बीटीसी अथ्यर्थियों ने राष्ट्रीय गान गाकर नियुक्ति प्रक्रिया पूरी करने की मांग की

story #btc protest

बीटीसी अथ्यर्थियों ने राष्ट्रीय गान गाकर नियुक्ति प्रक्रिया पूरी करने की मांग की

– सहायक अध्यापक भर्ती परीक्षा में समीक्षा नहीं नियुक्ति पत्र चाहिए

– @BJP कार्यालय का घेराव, प्रदर्शनकारियों एवं पुलिस के बीच हुई तीखी झड़प

दो साल से लंबित भर्ती प्रक्रिया को लेकर सैकड़ों @BTC अभ्यर्थियों ने #bjpoffice और #hazratganj चौराहे का घेराव कर प्रदर्शन किया। सहायक अध्यापक के पद पर #councelling होने के बाद भी नियुक्ति पत्र देने की प्रक्रिया में हो रही देरी से शुक्रवार को अभ्यर्थियों के सब्र का बांध टूट गया। प्रदर्शनकारियों ने राष्ट्र गान गाकर अपने नियुक्ति पत्र की मांग की। इस बीच @uppolice बल और प्रदर्शनकारियों के बीच तीखी झड़प भी हुई।

@BTC बैच 2013 के 12460 पदों की बहाली को लेकर अभ्यर्थियों का प्रदर्शन जारी है। प्रदर्शनकारी नियुक्ति पत्र की मांग को लेकर अड़े हैं। नाराज अभ्यर्थियों ने शिक्षा मंत्री दिनेश शर्मा के घर का भी घेराव कर विरोध जताया। इससे पहले @BJP मुख्यालय पर प्रदर्शन कर रहे अभ्यर्थियों को उग्र होते देख सुरक्षा में तैनात पुलिस कर्मियों ने उन्हें खदेड़ना शुरू किया, जिसके बाद मौके पर अफरा-तफरी मच गई। इसको लेकर कुछ अभ्यर्थियों को मामूली चोटें भी आईं।

पुलिस ने इस मौके पर करीब 35 अभ्यर्थियों को पकड़ लिया और बस में बैठा लिया। जहां से उन्हें कोतवाली लेकर जाकर छोड़ दिया गया। अभ्यर्थियों का आरोप है कि पहले तो चुनाव की वजह से भर्तियों पर रोक लगा दी गई और दोबारा भर्ती प्रक्रिया शुरू हुई। मेरिट लिस्ट बनी और चयन भी हो गया। लेकिन सरकार के उलटफेर के चलते अभ्यर्थियों की चयन प्रक्रिया पर सवाल खड़ा कर समीक्षा होने के नाम पर नियुक्ति पत्र नहीं जारी हो रहे हैं।

अभ्यर्थी पकंज कुमार बताते हैं कि सहायक अध्यापक भर्ती समीक्षा के नाम पर भेंट चढ़ा दी गई हैं। इससे पहले भी अभ्यर्थी 120 लक्ष्मण मेला पार्क में शांति पूर्ण ढंग से बैठ कर धरना दे चुके हैं, लेकिन सरकार अभ्यर्थियों की ओर कोई ध्यान नहीं दे रही है। सरकार के इस रवैये से अभ्यर्थियों का मानसिक शोषण हो रहा है। इसी बात को लेकर अभ्यर्थियों ने @yogigovernment के खिलाफ नारे बाजी की।

शिक्षक प्रदर्शन नहीं, स्कूल में पढ़ाने के लिए बने

#BTC अभ्यर्थियों के पांच सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल की मुलाकात बेसिक शिक्षा मंत्री के साथ मुख्यमंत्री से हुई, जिसके बाद अभ्यर्थियों ने प्रदर्शन को खत्म करने का ऐलान किया। प्रतिनिधिमंडल ने बताया कि मुख्यमंत्री ने एक सप्ताह में नियुक्ति पर कार्रवाई करने का आश्वासन दिया है। प्रतिनिधिमंडल ने बताया कि मुख्यमंत्री ने प्रमुख सचिव भर्ती पर नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि शिक्षक सड़कों पर प्रदर्शन के लिए बल्कि #school में पढ़ाने के लिए बने हैं।

 

Source:

Rate This

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *