वसूली के बलबूते दौड़ रही प्राइवेट बसें

4/5 (1)

प्राइवेट बसो में ओवर लोडिंग सावरिया ढ़ोई जा रही है जिससे यात्रियों को काफी दिक़्क़्ते हो रही है। इस बाबत बस मालिको से पूछने पर कुछ बस मालिको ने नाम न छापने की सर्त पर बताया की हर बस मालिक से बस चलवाने के लिए प्रतिमाह प्रति वाहन 5000 रुपए मासिक व 200 रुपये प्रति दिन वसूला जाता है। बस मालिको ने नाम न छापने की सर्त पर बताया की प्रसासनिक लोगो द्वारा बस चलाने के लिए ये वसूली की जाती है। ऐसे में अपने परिवार को पालने के लिए हमें ओवर लोडिंग सवारिया भरनी पड़ती है। एक बस मालिक ने अपनी आँखे नम करते हुवे बताया की यदि हम पुलिस आर टी ओ आदि के अधिकारियो को पैसा न दे तो हम अपनी बसे सड़क पर चला ही नही पाएंगे या तो बस को सीज़ कर दिया जायेगा या इतना जुर्माना लगा दिया जायेगा की हम बस छुड़ा ही नही पाएंगे। बस स्टैंड पर प्रति दिन 30 बसे अलग अलग रूड के लिए जाती है। ये वसूली हर बस मालिक से की जाती है। हलाकि ये जाच का विषय है। इस बाबत परिवहन विभाग क आर ऍम से पूछने पर उन्होने बताया की हमने कई बार नगर कोतवाली चौकी एस पी डी एम् आर टी ओ और उच्च अधिकारीयो को कंप्लेंट की मगर कोई सुनवाई नही हुई।

Advertisements

Rate This

Review It