विरमापुर की सफाई कर्मचारी सस्पेंड, जांच के आदेश

विरमापुर की सफाई कर्मचारी सस्पेंड, जांच के आदेश

गोंडा : मिशन-32 (120 घंटे में 32 हजार शौचालय निर्माण) में लापरवाही बरतने के मामले में विरमापुर की सफाई कर्मचारी को निलंबित कर दिया गया है। ब्लॉक मुख्यालय से संबद्ध करने के साथ ही मामले की जांच एडीओ पंचायत पंडरीकृपाल को सौंपी गयी है।

तीसरे दिन भी अफसरों का गांव का भ्रमण कर शौचालय निर्माण का जायजा लिया। बुधवार को डीपीआरओ घनश्याम सागर ने झंझरी ब्लॉक को गांवों का निरीक्षण किया। अभियान के तहत बन रहे शौचालयों की गुणवत्ता चेक करने के साथ ही राजगीर को मानकों का ध्यान रखने के लिए हिदायत दी। पंचायत को अभियान में सहयोग करे निर्धारित अवधि में लक्ष्य के अनुसार शौचालय बनवाने के निर्देश दिए गए। डीपीआरओ ने बताया कि विकासखंड इटियाथोक के ग्राम विरमापुर में तैनात सफाई कर्मचारी गुड्डा देवी ने मिशन-32 में कोई सहयोग नहीं किया। गांव में निरीक्षण के दौरान अनुपस्थित मिलीं। एडीओ पंचायत के अनुसार संबंधित कर्मचारी समीक्षा बैठकों में भी नहीं आ रही हैं।
लापरवाही बरतने के आरोप में संबंधित कर्मचारी को निलंबित करके ब्लॉक मुख्यालय से संबद्ध कर दिया गया है। मामले की जांच एडीओ पंचायत पंडरीकृपाल को सौंपी गई है। उप निदेशक पंचायत एके ¨सह ने पंडरीकृपाल ब्लॉक के गांवों का निरीक्षण करके प्रगति का जायजा लिया। निरीक्षण के दौरान जिला कंसलटेंट अभय प्रताप ¨सह रमन आदि साथ रहे। जिला गन्ना अधिकारी पीएन ¨सह ने हलधरमऊ के गांवों का दौरा किया।
मंडलीय कंसलटेंट विनय कुमार पांडेय ने बेलसर ब्लॉक के गांवों का निरीक्षण किया। स्वच्छताग्राही राघवेंद्र तिवारी से आवंटित गांव में निर्माण कार्य की जानकारी ली गई। तरबगंज ब्लॉक की ग्राम पंचायत पिपरीरोहुआ में एडीओ पंचायत दामोदर शुक्ल ने औचक निरीक्षण किया। प्रधान प्रतिनिधि विजय कुमार शुक्ल को निर्माण कार्य तेजी से कराने के निर्देश दिए। उधर, सामाजिक कार्यकर्ता घनश्याम जायसवाल ने ढोंढेपुर गांव में शौचालय बनवाने वाले गरीबों को नि:शुल्क सीट वितरित किया। अभियान को लेकर ग्रामीणों में काफी उत्साह है। महिलाएं खुद सामग्री देकर निर्माण कार्यों में सहयोग कर रहीं हैं।

Related news of Mission-32 :

पांच हजार शौचालय बनकर तैयार, निर्माणाधीन 23 हजार

मिशन 32000 के लिए रात में गांवों के लिए निकली डीएम की टीम

 

 

Source: Jagran

Rate This

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *