पांच हजार शौचालय बनकर तैयार, निर्माणाधीन 23 हजार

पांच हजार शौचालय बनकर तैयार, निर्माणाधीन 23 हजार

गोंडा : मिशन-32 120 घंटे में 32 हजार शौचालय निर्माण के तहत पांच हजार शौचालय बनकर तैयार हो गए हैं। जबकि 23 हजार शौचालयों पर निर्माण कार्य जारी है। जिले में लाभार्थियों के पंजीकरण का लक्ष्य पूरा कर लिया गया है। 32065 लाभार्थियों ने अपना पंजीकरण कराया है। डीएम ने नोडल अफसरों के साथ बैठक करके प्रगति का जायजा लिया। डीएम जेबी ¨सह ने मिशन-32 का फीडबैक लेने के लिए देरशाम जिला पंचायत सभागार में बैठक बुलाई थी।

Advertisements
नोडल अफसरों ने डीएम ने बताया कि बालू की किल्लत के साथ ही राजगीर की कमी खल रही है। कुछ नोडल अफसरों ने अपने खेत में बालू निकालने पर डॉयल-100 पुलिस के परेशान करने की भी बात बताई। डीएम ने पुलिस अधीक्षक को समस्या का समाधान कराने के निर्देश दिए हैं। अभियान के तीसरे दिन भी नोडल अफसर गांवों में भ्रमण करते रहे। गांववार नामित अफसरों ने स्थलीय सत्यापन करके निर्माण कार्य का जायजा लिया।
Advertisements
अभियान के तहत लाभार्थियों के पंजीकरण का लक्ष्य पूरा कर लिया गया है। 32065 लाभार्थियों ने विभागीय वेबसाइट पर पंजीकरण कराया है। ब्लॉकवार निर्धारित लक्ष्य को 13 ब्लॉकों ने पूरा कर लिया है, जबकि छपिया, परसपुर व हलधरमऊ पीछे हैं। जिले में करीब पांच हजार शौचालयों का निर्माण कार्य पूरा हो गया है। जबकि 23 हजार शौचालय निर्माणाधीन हैं।
Advertisements
उप निदेशक पंचायत एके ¨सह ने विकास भवन स्थित जिला स्तरीय कंट्रोल रूम का निरीक्षण किया। अभियान से जुड़ी वीडियो क्लिप व फोटोग्राफ सुरक्षित रखने के निर्देश संबंधित कर्मचारियों को दिए गए हैं। उप निदेशक ने नोडल अफसरों द्वारा दी जारी रही सूचनाओं को समय से अपडेट करने को कहा गया है। स्वच्छता अभियान को लेकर वीडियो कांफ्रें¨सग हो रही है।
Advertisements

Rate This

Review It