अब ‘लक्ष्य’ से बढ़ेंगी महिला अस्पताल की सुविधाएं

meeting #Gonda

अब ‘लक्ष्य’ से बढ़ेंगी महिला #hospital की सुविधाएं

@cmouttarpradesh

गोंडा: जिला महिला अस्पताल में प्रसव के लिए आने वाली महिलाओं के लिए यह खबर थोड़ी राहत भरी है। महिला अस्पताल की सुविधाओं को और बेहतर बनाया जाएगा। प्रसव कक्ष को और अधिक सुविधाओं से लैस किया जाएगा, जिससे प्रसव के लिए यहां पर आने वाली प्रसूताओं को किसी भी प्रकार की परेशानी न हो, इसके लिए भारत सरकार ने लक्ष्य नाम से एक नई योजना शुरू की है, जिसमें जिला महिला अस्पताल को शामिल किया गया है।

मातृ एवं नवजात शिशु मृत्युदर में कमी लाने के लिए इस योजना में प्रसव कक्ष व आपरेशन थियेटर को नया लुक दिया जाएगा। इसको लेकर तैयारियां शुरू हो गयी हैं।
भारत सरकार ने मातृ एवं शिशु मृत्युदर को नियंत्रित करने के लिए लक्ष्य का एक प्लान तैयार किया है। इसमें जिला महिला अस्पताल को चुना गया है। इस प्लान के तहत अस्पताल में प्रसव कक्ष व आपरेशन थियेटर की सुविधाओं के साथ ही उन सभी व्यवस्थाओं को बेहतर बनाया जाएगा, जिसका सरोकार प्रसव के लिए आने वाली महिलाओं से जुड़ा हुआ है। आपरेशन थियेटर को अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस किया जाएगा। इसके साथ ही प्रसव के दौरान महिलाओं को आरामदायक सुविधा दिलाने का प्रयास किया जाएगा। यह भी सुनिश्चित किया जाएगा कि किसी भी मरीज का किसी भी तरह से शोषण न होने पाएं। इसके लिए स्वास्थ्य अधिकारियों को 18 माह का समय दिया गया है। इस अवधि में लक्ष्य को क्रियान्वित करने की जिम्मेदारी अधिकारियों को दी गई है।

बनी रणनीति

– लक्ष्य योजना में महिला अस्पताल के चयन के बाद होने वाले कार्यों को लेकर प्रभारी सीएमएस डॉ. अनिल कुमार तिवारी की अध्यक्षता में बैठक बुलाई गयी, जिसमें कार्यक्रम के क्रियान्वन पर चर्चा की गयी। क्वालिटी मैनेजर डॉ. वेद प्रकाश चौधरी ने योजना की बारीकियां बताईं। साथ ही निगरानी माड्यूल की भी जानकारी से अवगत कराया। बैठक में डॉ. आभा आशुतोष, डॉ. पूजा जायसवाल, डॉ. रामलखन, रोगी सहायता केंद्र मैनेजर शिवेंद्र कुमार तिवारी, मैटर्न विद्या त्रिपाठी के साथ ही नर्स मेंटर शिखा कुशवाहा, वीरेंद्र यादव, आनंद मिश्र व दिनेश ¨सह मौजूद थे।

Source:

Rate This

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *