कल से चलेगा विशेष संचारी रोग पखवारा, तैयारी पूरी

गोंडा: जापानी इंसेफ्लाइटिस व एक्यूड इंसेफ्लाइटिस ¨सड्रोम की बीमारी के प्रकोप से बच्चों को बचाने के लिए सेहत महकमा सोमवार से विशेष पखवारा शुरू कर रहा है। 16 अप्रैल तक चलने वाले इस पखवारे में विविध कार्यक्रम होंगे। मरीज भी खोजे जाएंगे, गांवों में स्वच्छता भी फैलाई जाएगी। इसको लेकर विभिन्न विभागों की समन्वय समिति का गठन कर दिया गया है।

शनिवार को सीएमओ कार्यालय सभागार में आयोजित पत्रकारवार्ता में सीएमओ डॉ एसके श्रीवास्तव ने कहा कि इंसेफ्लाइटिस को लेकर सरकार गंभीर है। पिछले साल जिले में जापानी इंसेफ्लाइटिस के पांच व एईएस के 6 मरीज पाए गए थे, जिसमें से दो दिव्यांग व एक की मौत हो गई। इस बार स्वास्थ्य विभाग ने छूटे हुए करीब एक लाख बच्चों के टीकाकरण का लक्ष्य तैयार किया है। इसके लिए 111 सुपरवाइजर, 334 सेशन टीम, 3063 आंगनबाड़ी, 2960 आशा को लगाया गया है। साथ ही कई अन्य विभागों को भी इसमें शामिल किया गया है। इनके माध्यम से पखवारे के भीतर कार्यक्रम कराए जाएंगे। जिससे बीमारियों के प्रसार पर तत्काल रोक लगाई जा सके। इस अवसर पर जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा देवराज, डॉ. आरपी ¨सह, डॉ. देवेंद्र, डॉ. मोबीन अहमद सहित अन्य मौजूद थे।
पखवारा में यह होंगे कार्यक्रम

– कुपोषित बच्चों की सूची तैयार कराना।

– बुखार के रोगियों को चिन्हित करना।
– अति कुपोषित बच्चों को पोषण पुर्नवास केंद्रों पर रेफर करना।

– एईएस व जेई से दिव्यांग हुए बच्चों को चिन्हित करके उनकी सूची तैयार करना।

– गांवों में नालियों की साफ-सफाई कराएं। ग्राम स्तर पर प्रभातफेरी निकाली जाएगी।

– गांवों के साथ सफाई की प्रतिज्ञा दिलाई जाएगी।

– ग्राम वासियों के सहयोग से श्रमदान द्वारा झाड़ियों को कटवाया जाएगा।

– उथले हैंडपंपों को चिन्हित करके उन्हें मार्क कर दिया जाय।

– इंडिया मार्का हैंडपंप व प्लेटफार्म की मरम्मत कराई जाय।

Source:

Rate This