दुर्घटना का इंतजार कर रहा बिजली व वन विभाग

गोंडा : बिजली विभाग व वन विभाग के अधिकारियों की उदासीनता किसी बड़े हादसे को आमंत्रण दे रही है। दोनों विभाग के जिम्मेदार अधिकारी इस तरफ ध्यान देने की जरूरत नहीं समझ रहे हैं।

मामला कर्नलगंज से कटरा बाजार जाने वाले मार्ग से जुड़ा है। यह मार्ग काफी जर्जर हो चुका था। हाल ही में इसका निर्माण कराया गया है। सड़क निर्माण कराने वाली संस्था ने पटरी निर्माण पर विशेष ध्यान नहीं दिया। केवल खानापूर्ति करके उसने अपनी जिम्मेदारी पूरी कर दी।

सड़क अच्छी बनने के कारण छोटी गाड़ियों से लेकर बड़ी गाड़ियों के साथ ही बाइक भी काफी तेज गति से इस मार्ग पर दौड़ने लगी हैं। सड़क बन जाने के बाद वन विभाग के जिम्मेदार लोगों ने इस मार्ग पर चल रहे लोगों की सुरक्षा पर कोई ध्यान नहीं दिया। मार्ग से सटे हुए कई ऐसे वृक्ष लगे हैं, जहां वाहन पटरी पर नहीं जा सकता। जरा सी चूक लोगों के लिए भारी पड़ सकती है। मार्ग के एक साइड में विद्युत के पोल पहले ही सड़क से सटे लगे हुए थे। जिसे उखाड़ कर मार्ग से दूर स्थापित करने के बजाय बिजली विभाग के जिम्मेदार लोगों ने दूसरी पटरी पर नई लाइन बनाने के लिए सड़क से सटाकर पोल स्थापित करवा दिया है।
वन विभाग के पूर्व रेंज आफिसर अंगद पांडेय ने स्वीकार किया कि मार्ग से सटे वृक्ष हादसे का करण बन सकते हैं। अब मेरे पास वहां का चार्ज नहीं है। वन विभाग के रेंज ऑफिसर संतोष शुक्ल से दूरभाष पर कई बार संपर्क करने का प्रयास किया गया लेकिन फोन नहीं उठा। अधिशासी अभियंता कर्नलगंज नीरज कुमार के फोन की घंटी बजती रही, लेकिन उन्होंने कॉल रिसीव करना उचित नहीं समझा।

 

Source: 

Rate This

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *