आग से 13 परिवारों की गृहस्थी राख, बालिका समेत दो झुलसे

Burned house @gondainfo

आग से 13 परिवारों की गृहस्थी राख, बालिका समेत दो झुलसे

@Gondainfo : सोमवार की सुबह करीब नौ बजे क्षेत्र के बहादुरपुर में अज्ञात कारणों से आग लग गई। देखते ही देखते 13 परिवारों की गृहस्थी जलकर राख हो गयी।

Advertisements
आग की चपेट में आने से सात वर्षीय बालिका व एक महिला झुलस गयी। मौके पर पहुंचे नायब तहसीलदार ने फायर ब्रिगेड को सूचना दी। फायर ब्रिगेड की टीम करीब तीन घंटे देरी से पहुंची, तब तक सब जलकर राख हो गया। आग लगने के दौरान रसोईगैस सि¨लडर में विस्फोट हो गया। हालांकि किसी प्रकार की जनहानि नहीं हुई है। लेखपाल गंगा प्रसाद ने बताया कि सुबह करीब 9 बजे लगी आग में रामप्रसाद, मुन्नीलाल, रामगोपाल, सहदेव, सुखदेव सहित कुल 13 लोगों के आवासीय घर जलकर राख हुए हैं। सात वर्षीय राधा पुत्री रामगोपाल गंभीर रूप से झुलस गई, जिसे उपचार के लिए प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र परास भेजा गया।
Advertisements
गांव की ही शांती (45) के घर में रखे गैस सिलेंडर में विस्फोट हो गया, जिसमें उनका दोनों हाथ झुलस गया। आग में करीब 10 लाख रुपये के नुकसान का आंकलन लेखपाल ने करते हुए रिपोर्ट तहसील प्रशासन को सौंपी है। तहसीलदार श्याम कुमार ने बताया कि जल्द ही पीड़ितों को सहायता दिलाई जाएगी।
Advertisements
धानेपुर संवादसूत्र के अनुसार मुजेहना ब्लॉक के त्रिलोकपुर गंगापुरवा निवासी रामकिशुन के छप्पर के घर में सोमवार को अचानक आग लग गयी, जिससे उसकी गृहस्थी जलकर राख हो गयी। रामकिशुन ने बताया कि आग शार्टसर्किट से लगी है। हल्का लेखपाल को घटना की सूचना दी गयी है।

Advertisements

शादी की खुशियां जलकर हुईं राख

-सुबह लगी आग ने तीन परिवारों के शादी की खुशियों को जलाकर राख कर दिया। राजाराम की बेटी रेखा की दो 26 अप्रैल को होनी है।

Advertisements
उन्होंने बताया कि शादी की तैयारी के लिए कपड़े और नकदी जमा कर रखी थी। शादी के लिए एक लाख पांच हजार नकद, दो अंगूठी, नए कपडे़ सहित जेवर घर में था। लेकिन कुछ भी नहीं बचा। राजाराम का रो-रोकर बुरा हाल है। इसी गांव के सुखदेव की लड़की शीला की भी शादी तय है। उन्होंने शादी को लेकर सामानों की व्यवस्था कर ली थी। आग में सबकुछ जल गया। गांव के ही रामसूरे ने अपनी लड़की बीना की शादी 11 मई को तय कर रखी है। घर जलने से खुले आसमान के नीचे परिवार वाले आ गए हैं।
Advertisements
जिससे परिवार वालों की पीड़ा बढ़ गई है। ऐसे में शादी कैसे होगी, यह भी ¨चता पीड़ितों को सता रही है।
Advertisements

 

Source:

Rate This

Review It